जाली नोट के धंधे का खुलाशा,तीन जालसाज गिरफ्तार,कई सफेदपोश हैं इस धंधे में शामिल

0
99
DEMO PIC

हाजीपुर:देश में नोटबंदी के बाद सारण पुलिस कप्तान हरकिशोर राय द्वारा जाली नोट के फैक्ट्री के खुलाशा के बाद वैशाली पुलिस ने भी जाली नोट के धंधे का खुलाशा किया है। वैशाली पुलिस कप्तान डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो के निर्देश पर नगर थाना की पुलिस ने जाली नोट के धंधे से जुड़े तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। नगर थानाध्यक्ष अंजनी कुमार सिंह के नेतृत्व में नगर पुलिस ने नगर के छोटी मड़ई धनौती में एक घर में छापामारी कर तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। तीनो धंधेबाजों को नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर थाना लाया है। गिरफ्तार तीनों धंधेबाजों में मुख्य आरोपी रामबली राम के पास से पुलिस ने 1 लाख 70 हजार का जाली नोट बरामद किया है। बरामद नोट में सभी 1700 नोट 100 रूपया का है। गिरफ्तार धंधेबाजों में नगर थाना क्षेत्र के छोटी मड़ई धनौती का रामबली राम, लक्ष्मी नगर धनौती का मुकेश कुमार सिन्हा और धनौती का चंद्र भूषण शामिल है। इन जालसाज लोगों को गुप्त सुचना के आधार पर नगर थानाध्यक्ष अंजनी कुमार सिंह के नेतृत्व में गठित टीम में शामिल दारोगा परसुराम सिंह नगर थानाध्यक्ष के अंगरक्षक अमित कुमार और सिपाही संजय कुमार ने गिरफ्तार किया है।

 

पुलिस विभाग के सूत्रों के अनुसार गिरफ्तार सभी धंधेबाज लम्बे समय से जाली नोट के धंधे से जुड़े थे। आज इनकी दूसरी डील थी। लेकिन डील करने वाले से हुए अनबन के बाद किसी ने पुलिस को इस धंधे की गुप्त सूचना दे दी और यह कार्रवाई करने में पुलिस सफल हो सकी। गिरफ्तार सभी आरोपी एक लाख भारतीय मुद्रा देने पर 5 लाख जाली नोट देते थे। इस मामले में कई सफेदपोश लोग भी शामिल हैं। जिसकी पहचान सुनिश्चित कर उनलोगों की गिरफ़्तारी के लिए वैशाली पुलिस की कार्रवाई तेज हो चुकी है। सूत्रों की माने तो जाली नोट का पुरा धंधा औधोगिक थाना क्षेत्र में खूब फलता-फूलता रहा है। इस धंधे में कई ऐसे लोग शामिल हैं जिनकी कल्पना करना भी मुश्किल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here