वैशाली पुलिस के लिए Black Thursday, पूरे बिहार में शर्मसार हुई वैशाली पुलिस 

0
159
सोनपुर में तिरहुत आईजी चार जिलों के पुलिस कप्तान के साथ कर रहे थे समीक्षा बैठक,वैशाली में दिन भर आपराधिक घटना को अंजाम देकर अपराधी आईजी को देते रहे सलामी… 
पटना/हाजीपुर : तिरहुत प्रक्षेत्र के आईजी नैयर हसनैन खान कल गुरुवार को सारण के सोनपुर में अपराध समीक्षा की बैठक कर रहे थे। उक्त बैठक में वैशाली,सारण समेत चार जिलों के वरीय पुलिस अधिकारी शामिल थे। और गुरुवार की अहले सुबह पुरानी गंडक पुल, जो सारण और वैशाली को जोड़ती है, उसके दोनों छोड़ पर अपराधी लूट-पाट की घटना को अंजाम देते है। विरोध करने पर बेखौफ अपराधी गोली भी मार देते हैं। लूट की दोनों घटना में पीड़ित सोनपुर का ही युवक था। इस घटना के साथ वैशाली में अपराधियों का तांडव शुरू होता है, जो देर रात तक चलता रहता है। और किसी भी घटना में किसी भी अपराधी की गिरफ़्तारी करने में वैशाली पुलिस नाकाम रहती है। वैशाली में गुरुवार को अपराधियों ने ऐसा तांडव किया जैसे अपने अपराध से वो आईजी को यह बताना चाह रहे की वैशाली में अब भी अपराधियों का राज है।
 नगर थाना क्षेत्र के पुरानी गंडक पुल रोड में मोबाइल लूट की घटना को अंजाम देने के दौरान अपराधियों ने युवक को दो गोली मार दिया। घायल युवक को स्थानीय लोगों ने सदर अस्पताल भर्ती कराया। जहाँ से डॉक्टरों ने उसे पटना रेफर कर दिया। नगर थाना क्षेत्र के सुभाष चौक पर पंजाब नेशनल बैंक के लॉकर से जेवर निकालकर अपने पति के साथ बाइक से जा रही महिला से बाइक सवार अपराधियों ने जेवर का बैग छीन लिया। लूट की पूरी वारदात पास के दुकान में लगे CCTV में कैद हो गई। नगर थाना क्षेत्र के तंगौल मोहल्ले में मुकेश शर्मा से 50 हजार रूपया छीन लिया।
लालगंज के वर्त्तमान विधायक राजकुमार साह पर हमले के आरोपी को गिरफ्तार करने गई लालगंज और करताहां थाना की पुलिस पर हमला और पथराव किया गया। उक्त घटना में लालगंज थानाध्यक्ष और करताहां थाना का चालक घायल हो गए। पथराव में करताहां थाना की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गई।
भगवानपुर थाना क्षेत्र के मांगनपुर में भूमि विवाद में दो पक्षों गोलीबारी हो गई। घटना में एक की मौत और तीन जख्मी हो गए। मृतक पटेढ़ी बेलसर निवासी नंदकिशोर सिंह के बेटे विक्रम के शव को गोरौल थाना के पास रखकर लोगों ने हंगामा किया। विक्रम की शादी करीब दो माह पहले ही हुई थी। इस घटन में आक्रोशित लोगों ने पुलिस के साथ हाथापाई किया,और गोरौल थाना का घेराव कर हंगामा किया।
महुआ थाना क्षेत्र में सरेराह बाइक की डिक्की से देर शाम 40 हजार रुपये की लूट हो गई।
सदर थाना क्षेत्र के दौलतपुर चांदी में आक्रोशित लोगो ने ह्त्या के आरोपी का घर ढाह दिया। बताया जाता है की क्रिकेट के खेल में रोहन और रौशन के बीच विवाद हुआ। क्रिकेट में हारने पर रौशन ने रोहन को विकेट से मार दिया। जिससे इलाज के दौरान रोहन की मौत हो गई। आरोपी के कई गाड़ियों को फूंक डाली। घटना की सुचना पर पहुंची सदर थाना की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। जिसमे थानाध्यक्ष रोहन कुमार ,SI सीबी शुक्ला , महिला पुलिस अधिकारी पुष्पा कुमारी ,सिपाही मणिभूषण कुमार घायल हो गए। पुलिस टीम पर हमला में वैशाली पुलिस कप्तान डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा है की मामले में आरोपियों की पहचान की जा रही है। पहचान में बाद आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर गिरफ़्तारी की जाएगी।
इन सारे घटनाक्रम से यह स्पस्ट है की वैशाली पुलिस का इक़बाल समाप्त हो चूका है। किसी भी घटना के बाद घटनास्थल पर पुलिस पहुँचती है तो पुलिस टीम पर ईंट- पत्थर से हमला करना कितना सही है। पुलिस पर हमला होना काफी गंभीर विषय है। सूत्र बताते हैं की सदर थाना के थानाध्यक्ष समेत उनकी टीम पर चाँदी में आक्रोशित लोगों ने ऐसे पत्थर बरसाया जैसे कश्मीर में सेना पर हमला होता है। सुभाष चौक पर महिला से पर्स छीनने के दौरान अगर पुलिस पहुँचती तो क्या अपराधी वहाँ भी पुलिस पर हमला कर सकता था। गुरुवार को जिस तरह पुरे जिले में पुलिस पर हमला हुआ वह पुलिस और समाज के लिए सोचने का विषय है। वैशाली की हालात ऐसी हो चुकी है की दिन के उजाले में भी आप पैसा लेकर और कोई महिला अपने पति के साथ जेवर लेकर नहीं जा सकती। पत्नी को अपराधी बीच शहर पर घसीटता हुआ ले जाए। वैशाली में लोग स्वयं अपराधी को सजा सुनाने लगे हैं। उसका घर ढाह दे, गाड़ियाँ फूंक दे,पुलिस टीम पर हमला कर दे। पुलिस को बैकफुट पर आना पड़े। पुलिस तंत्र कमजोर होने लगे। पुलिस का डर आम जनता से समाप्त हो जाए,यह समाज के लिए अच्छा नहीं होता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here