आखिर क्यों सीतामढ़ी में लोगों के दिलों पर राज करते हैं डीएम डॉ. रणजीत सिंह 

0
891
बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करते सीतामढ़ी डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह
सीतामढ़ी/पटना:कभी हवाई चप्पल तो कभी नंगे पाँव, तो कभी बूट पहनकर दुर्गम इलाकों का दौरा। तो कभी गरीबगर्भवती महिला को अपना खून देकर जच्चा और बच्चा के लिए भगवान बन जाते हैं जिला के डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह। यह हम नहीं कह रहे। सीतामढ़ी जिला के अधिकांश गरीब लोग एक स्वर में कहते हैं की जिला का डीएम हो तो रणजीत जी जैसा। कई  किलोमीटर पैदल चलकर आज देर शाम जब डॉ रणजीत सिंह सीतामढ़ी के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण करने सीतामढ़ी जिला ले सुदूर प्रखंडों में पहुँचे तो लोग अपने को बारिश के पानी में भींगते हुए चल पड़े अपने जिला के डीएम के साथ। यह दृश्य बताता है की सीतामढ़ी  अपने इस युवा डीएम को कितना पसंद करते।
बाढ़ की प्रबल आशंका सीतामढ़ी में आ चुकी है। डीएम ने त्वरित कारवाई करते हुए पटना से सेटलाइट फोन मंगाया । बाढ़ से ज्यादा  ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों में एनडीआरएफ,एसडीआरएफ की टीम को लगाया गया। डीएम के निर्देश पर टूटे सड़क और तटबन्धों का निर्माण कार्य तेज हो चूका है।
अगले 20 जुलाई तक जिला के सभी निजी और सरकारी स्कूल बंद कर दिए गए हैं । सभी अधिकारियों, कर्मचारियों के सारे छुट्टी रदद् कर दी गयी है । पूरी जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है । सर्वाधिक संवेदनशील स्थान पर डीएम के निर्देश पर खुद बीडीओ, सीओ लगातार कैम्प कर रहे हैं।  वहां एक्सट्रा फोर्सेज लगाई गई है।  लोगों की सुरक्षा के खातिर ही जलमग्न क्षेत्र और तटबन्धों किनारे धारा 144 लगाई गई है । पुरे जिले की मॉनिटरिंग स्वयं जिलाधिकारी रात में भी कर रहे हैं।
हालांकि यह प्राकृतिक आपदा है, कुदरत के कहर के सामने कहाँ किसी की चलती है । लेकिन जिला प्रशासन का पूरा  प्रयास है की इस प्राकृतिक आपदा में किसी तरह की जान माल की हानि नहीं हो। हलाकि इन सब कामों में प्रशासन के साथ आम जनता को भी आगे बढ़ना होगा। सीतामढ़ी में कई ट्रेनों का परिचालन बंद हो चूका है ,तो कई का रुत डाइवर्ट कर दिया गया है। हालांकि जिला के लोग बताते हैं की हमारे डीएम के खिलाफ कुछ लोग अपनी आवाज बुलंद करते हैं। लेकिन हमारे जिला के डीएम हर गरीब गुरबों की आवाज सुनते है। जिन लोगों को इनकी कार्यशैली पर शक होता है वह इसके जनता दरबार में आकर देख  सकते हैं की यहाँ के डीएम किस तरह जान समस्या का निबटारा करते हैं। लेकिन जो अधिकारी काम में विश्वास रखते हैं उनका कुछ विरोध होता ही है।
पटना से अभिलाषा के साथ सीतामढ़ी से विक्की सिंह की रिपोर्ट… 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here