डेढ़ दर्जन से ज्यादा IPS अधिकारीयों के तबादले की लिस्ट तैयार, 48 घंटों में जारी हो सकता है आदेश

0
139
पटना:सूबे में बेलगाम अपराधी और पटरी से लगभग उतर चुकी कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने की कवायद के तहत बड़े पैमाने पर IPS अधिकारियों के तबादले का कॉउंट डाउन शुरू हो गया है। तकरीबन डेढ़ दर्जन से ज्यादा आईपीएस अधिकारियों के तबादले की सूची तैयार हो चुकी है। इन तबादलो में 2016 बैच के बिहार कैडर के आईपीएस अधिकारियों की ट्रेनिंग पूरी होने के बाद उन्हें भी जिलों में तैनाती दी जानी तो कुछ को दे दी गई है। तैयार लिस्ट पर गृह विभाग की अंतिम मुहर शेष है। मिली जानकारी के अनुसार कुछ जिलों के एसपी प्रमोशन के कगार पर भी हैं। इसलिए प्रमोशन होने की स्थिति में उनके स्वतः तबादले हो जाएंगे।
विश्वस्त सूत्रो से मिल रही जानकारी के अनुसार गोपालगंज, सिवान, सारण, वैशाली, मुजफ्फरपुर, रोहतास, पटना समेत कई जिलों में IPS अधिकारियों के तबादले होंगे। वही पटना,गोपालगंज और वैशाली एसएसपी व एसपी ने तो निजी कारणों से मुख्यालय को उनके अपने जगह से हटाने की गुहार लगायी है। जिसे स्वीकार कर लिया गया है।
वही , दुसरी तरफ बाढ़ में ASP लिपि सिंह का असाईनमेंट भी पूरा हो गया है। मोकामा के बाहुबली विधायक अपने कई गुर्गों संग बेउर जेल की शोभा बढ़ा रहे है।  स्पीडी ट्रायल की कानूनी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। तो विवेका पहलवान के AK-47 चमकाते गुर्गे भी चाय पीते मोकामा स्टेशन के समीप से दबोचे जा चुके है। लब्बो लुआब ये की ट्रेनिंग में भी लिपि सिंह ने अपनी पहली पोस्टिंग में शानदार कीर्तिमान स्थापित किये और अब वे तबादले की राह भी देख रही हैं। लिस्ट के बाबत मिली जानकारी पर यकीन करें तो राजधानी या फिर आसपास के जिले वैशाली का स्वस्त्र प्रभार 2016 बैच की इस युवा IPS को मिलने जा रहा है। लेकिन वैशाली की कमान या तो लिपि सिंह को मिलनी है या जयंत कान्त को। तत्काल आईपीएस अधिकारी जयंत कान्त अभी छुट्टी पर हैं। 
वही, दूसरी तरफ  2016 के बैच का कोई एक अधिकारी सिटी एसपी वेस्ट का जगह ले सकते हैं। ऐसे कयास पुलिस मुख्यालय में जोरदार ढंग से चर्चा में हैं। इस का फलाफल ये हो सकता है कि दानापुर ASP आईपीएस अशोक मिश्र को स्थांतरित किया जा सकता है।
तबादला होना है यह तय है। फाइनल लिस्ट तैयार है। तमाम गुणा भाग और अंतिम समय की इन आउट प्रक्रिया भी समाप्त हो चुकी है। तकरीबन 20 आईपीएस  तबादले की सूची में है। लेकिन जैसा कि विदित है अंतिम निर्णय तो एक ही व्यक्ति को लेना है,हस्ताक्षर उनको ही करना है। यानी कॉउंट डाउन बिगिन्स करिये, इंतजार ट्रांसफर करने ही वाली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here