केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय बनते हैं नगर महादेव पातालेश्वर नाथ के गाड़ीवान,इनकी बैलगाड़ी सबसे अगाड़ी

0
3

राहुल अमृत राज

सूबे के छोटे से शहर वैशाली जिला मुख्यालय हाजीपुर के मूल निवासी नित्यानंद राय आज सम्पूर्ण भारतवर्ष में चर्चित हैं। छात्र जीवन से ही राजनीति में रहने वाले नित्यानंद राय आज देश के गृह राज्य मंत्री हैं। हाजीपुर के राज नारायण महाविद्यालय से अपनी राजनीतिक पारी शुरू करने वाले नित्यानंद राय भाजपा में कई बड़े पदों पर रहे हैं। 123 हाजीपुर विधानसभा क्षेत्र से 4 बार विधायक रहे नित्यानंद दूसरी बार भाजपा के टिकट से उजियारपुर (समस्तीपुर) से सांसद हैं। पहली बार नित्यानंद राय 2014 में उजियारपुर से सांसद बने। दूसरी बार उजियारपुर से सांसद बनने के बाद इन्हें भारत सरकार के काफी महत्वपूर्ण पद की जिम्मेदारी देते हुए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री बनाया गया है।

नित्यानंद राय शुरू से अब तक का अपना सम्पूर्ण राजीनीति जीवन भाजपा के साथ ही बिताए हैं। पहली बार सांसद बनने के साथ भाजपा के बिहार प्रदेश अध्यक्ष की कमान भी इनके हाथों में रही है। वैशाली जिला मुख्यालय हाजीपुर शहर के कटरा स्थित नगर महादेव बाबा पातालेश्वरनाथ मंदिर और नित्यानंद राय की चर्चा अब सम्पूर्ण देश में है। आज नित्यानंद राय काफी महत्वपूर्ण पद पर हैं। बाबजूद प्रत्येक वर्ष की तरह अब भी महाशिवरात्रि के दिन हाजीपुर में अपनी दशकों परंपरा का निर्वाहन करना नहीं भूलते। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय छात्र जीवन से ही महाशिवरात्रि के दिन बिहार के ऐतिहासिक शिव बारात में नगर महादेव बाबा पातालेश्वरनाथ के गाड़ीवान बनते रहे हैं।

नगर महादेव के गाड़ीवान बनने की परंपरा पर नित्यानंद कहते हैं कि मैं करीब पिछले 25 वर्षों से नगर महादेव का गाड़ीवान बनते आ रहा हूँ। भोलेनाथ से यह कामना है कि हमारा देश खूब तरक्की करे और भारत विश्वगुरु बने। हाजीपुर जैसे छोटे शहर से राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाले नित्यानंद आज राजनीति में काफी आगे बढ़ चुके हैं। नित्यानंद कहते हैं कि सब नगर महादेव का आशीर्वाद है।

नित्यानंद राय के राजनीति में शुरुआत के दिनों में साथ रहने वाले लोग कहते हैं कि भोजपुरी में एक गाना है, हमार बैलगाड़ी सबसे अगाड़ी, उसी तरह नित्यानंद राय की बैलगाड़ी आज नगर महादेव बाबा पातालेश्वरनाथ के आशीर्वाद से इतनी आगे निकल गई है कि हाजीपुर जैसे छोटे शहर से इनकी बैलगाड़ी से आगे निकलना किसी के लिए भी काफी असंभव है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here